Zara Zara Behekta Hai-ज़रा ज़रा बहकता है Song Lyrics in Hindi.

Song: Zara Zara Behekta Hai
Movie: Rehnaa Hai Terre Dil Mein
Singer: Bombay Jayashri
Lyrics: Sameer
 Music:Harris Jayaraj
Director: Gautham Menon

Lyrics in Hindi

ज़रा ज़रा बहकता है, महकता है
आज तो मेरा तन-बदन
मैं प्यासी हूँ
मुझे भर ले अपनी बाहों में
है मेरी कसम, तुझको सनम
दूर कहीं ना जा
ये दूरी कहती है
पास मेरे आजा रे

यूँ ही बरस-बरस काली घटा बरसे
हम यार भीग जाएँ इस चाहत की बारिश में
मेरी खुली-खुली लटों को सुलझाए
तू अपनी उँगलियों से
मैं तो हूँ इसी ख्वाहिश में
सर्दी की रातों में
हम सोये रहें एक चादर में
हम दोनों तन्हाँ हो
ना कोई भी रहे इस घर में
ज़रा ज़रा बहकता है…

तड़पाएँ मुझे तेरी सभी बातें
एक बार ऐ दीवाने झूठा ही सही, प्यार तो कर
मैं भूली नहीं हसीं मुलाकातें
बैचेन कर के मुझको
मुझसे यूँ ना फेर नज़र
रूठेगा ना मुझसे
मेरे साथिया ये वादा कर
तेरे बिना मुश्किल है
जीना मेरा मेरे दिलबर
ज़रा ज़रा बहकता है…

Lyrics in English

Jara jara bahakata hai, mahakata hai, aj to mera tanabadan
Main pyaasi hun, mujhe bhar le apani baahon men
Hai meri kasam tujhako sanam dur kahin na ja
Ye duri kahati hai paas mere aja re

Yunhin baras baras kaali ghata barase
Ham yaar bhig jaae is chaahat ki baarish men
Meri khuli khuli laton ko sulajhaaye, tu apani ungaliyon se
Main to hun isi khwaaish men
Sardi ki raaton men ham soye rahen ek chaadar men
Ham dono tanaha ho, na koi bhi rahe is ghar men

Tadapaayen mujhe teri sabhi baaten
Ek baar ai diwaane jhuthha hi sahi, pyaar to kar
Main bhuli nahin hasin mulaakaaten
Bechain kar ke mujhako, mujhase yun na fer najar
Ruthhega na mujhase mere saathiya ye waada kar
Tere bina mushkil hai jina mera mere dilabar

Leave a Reply

Your email address will not be published.